28/09/2015

#देखो बेटा ऐसा है #किचन



पढ़ लिख कितनी भी जाओ 
सैलरी चाहे जितनी मर्ज़ी उठाओ 
असली जंग तो चौके में ही है लड़नी 
मेथी अजवाइन नमक की पूरियाँ हैं तलनी !

27/09/2015

कौन कहता है हमे देश याद नहीं आता

Taken on Pier 39, opposite Ghireradelli chocolate factory.
This pic is attached here in a sense ki desh yaad aata hain
to boat se tair ke ghar jaane ka man ho jata hoga to shayad
thoda emotional connect lage hahahah !
Please pardon me !

कौन कहता है हमे देश याद नहीं आता
हर रोज़ आता है सुबह छो बजे
क्योंकि अब दरवाजे पर कोई घंटी बजाने वाला नहीं है
रोज़ सुबह काम वाली बाई की वोह मीठी मीठी बातें, उफ़

आज तक से भी तेज अपार्टमेंट की गॉसिप्स
और ड्राई फ्रूट्स और घी पॉट की मॉनिटरिंग
अजी  नहीं रहे वोह खेल अब हमारे
और उससे जो टेस्टोस्टेरोन की डोज़ मिलती थी वोह भी नहीं रही

अब क्या बताएं कितनी याद आती है  वोह
एंटरटेनमेंट से भरपूर बाई
हर  वाइफ का नेशनल स्पोर्ट होता है
उसकी काम वाली बाई

हमे मिला क्या इस देश में  ?
एक नीरस डिशवाशर और वैक्यूम क्लीनर
लानत है !

सुबह उठने के बाद कोई ताजे  दूध का पैकेट पहुँचाने वाला  नहीं है
अब कोई सुबह साढ़े पांच पर यह पूछने वाला नहीं है
की मैडम वोह कूपन तो आपने नहीं रखा है
पर झोला रखा है, दूध देना है ना

अब कोई बालकनी में उत्पात मचाने वाला नहीं है
क्यूंकि जनाब इस शहर मे तो बन्दर या तो टीवी पे या जू में दीखे हैं
इंडिया की  तरह कौन फ्लोरा फौना का सीमलेस इंटीग्रेशन कर पाया है
वोह भी अर्बन लैंडस्केप में?

बोलो बोलो !

अजी ख़बरों की तो पूछिये ही मत

26/09/2015

#देखो बेटा ऐसा है

देखो बेटा ऐसा है,
रहो कहीं भी,
लेकिन खाओ सिर्फ और सिर्फ Parle - G
आओ डिप करें !
Unusually early good morning for a weekend !